Uttar Hamara logo

लोकप्रियता में पीएम मोदी से आगे कैसे निकले सीएम अखिलेश यादव, जानिए प्रमुख वजहें  

33

उत्तर प्रदेश में अगर लोकप्रियता  की बात की जाए तो अखिलेश उत्तर प्रदेश में जनता की पहली पसंद है ताज़ा सर्वे में जनता की पहली पसंद अखिलेश यादव ही है। अपनी सरकार के कार्यकाल में अखिलेश इतना विकास का काम कर चुके हैं कि वह युवाओं के दिलों में बस गए हैं। आज की तारीख में सीएम अखिलेश यादव पीएम नरेन्द्र मोदी की तुलना से कहीं ज्यादा युवाओं में अपनी पकड़ रखते हैं। अखिलेश यादव को उत्तर प्रदेश के हर वर्ग का समर्थन हासिल है। सोशल मीडिया पर भी अखिलेश के पक्ष में समर्थन शुरू हो गया है।

लैपटॉप योजना

अखिलेश सरकार की लैपटॉप योजना ने अखिलेश को युवाओं में खासा लोकप्रिय बना दिया है। अब सीएम अखिलेश यादव ने समाजवादी स्मार्टफोन की घोषणा की है। इसके अलावा स्टॉर्टअप पॉलिसी से वह युवाओं को लुभा रहे हैं।

लखनऊ का वर्ल्ड क्लास डेवलपमेंट

सीएम अखिलेश यादव ने लखनऊ का वर्ल्ड क्लास डेवलपमेंट कराया है। विकास परियोजनाओं से लेकर मनोरंजन पार्कों तक का तोहफा दिया है। हजरतगंज में ‘गंजिंग कार्निवाल’ की शुरूआत की गई जो बेहद कम समय में ही लोकप्रिय हो गया है। गोमती नदी को रिवर फ्रंट योजना के तहत विकसित किया गया। एशिया के सबसे बड़े पार्क जनेश्वर मिश्र पार्क की भी सौगात मिली। शहर में 50 हजार दर्शकों की क्षमता वाले अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है जिसकी अनुमानित लागत 360 करोड़ रुपए है।

पर्यटन को बढ़ावा

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अभूतपूर्व कार्य किये हैं। पर्यटन विकास के लिए महत्वपूर्ण अवस्थापना सुविधाओं के विकास, ताजगंज वार्ड के समुचित विकास का कार्य, मथुरा, वृंदावन सर्किट पर अवस्थापना सुविधाओं का विकास तथा क्षेत्र में स्थित प्राचीन कुंडो का पुनरोद्धार किया जा रहा है। साथ ही आगरा, लखनऊ, वाराणसी को सम्मिलित करते हुए ’हैरिटेज आर्क’ की परिकल्पना की गई है। वृन्दावन में यमुना रिवर फ्रंट का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। आगरा में इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निर्माण को प्रस्तावित किया।

मेट्रो रेल योजना

लखनऊ मेट्रो रेल भी आने वाले दिनों में लखनऊ की शान होगी। खासतौर से जिस तरह से राजधानी की सड़कों पर यातायात का दबाव बेहद बढ़ रहा है, उसको देखते हुए आने वाले दिनों में ये लोगों के लिए वारदान साबित होगी। लखनऊ के अलावा कानपुर, वाराणसी, इलाहाबाद, मेरठ में मेट्रो का कार्य प्रस्तावित है। साथ ही ग्रेटर नोयडा मेट्रो और नॉएडा मेट्रो का विस्तार भी अखिलेश सरकार ने कराया है जिसका लाभ उन्हें चुनाव में मिलना तय है।

एसोचैम ने सराहा

एसोचैम की ‘उत्तर प्रदेश इंचिंग टूवर्ड्स डबल डिजिट ग्रोथ’ रिपोर्ट ने यूपी में उधोगों के अनुकूल माहौल को साफ तौर से बयान किया। रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश की अर्थव्यवस्था में काफी सुधार आया, जिसके परिणामस्वरूप तीन वर्षों में प्रदेश की आर्थिक विकास दर देश की तुलना में बेहतर रही। लखनऊ उधोग जगत से भी अछूता नहीं हैं और यहां 1,500 करोड़ रुपये की लागत से HCL ग्रुप तेजी से इलेक्ट्रॉनिक सिटी विकसित कर रहा है।

वूमेन पावर लाइन ‘1090’

महिलाओं के विरुद्ध होने वाली विभिन्न प्रकार के उत्पीड़न सम्बन्धी घटनाओं पर लगाम कसने की बात करें तो वूमेन पावर लाइन ‘1090’ के अन्तर्गत वर्ष 2015 में 1,30,487 से अधिक शिकायतों का निस्तारण किया गया। जो अपने आप में इसकी सफलता बयान करता है।

मेडिकल जांचे निःशुल्क

स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार से भी साल 2015 बेहद अहम रहा। एक ओर 108 समाजवादी स्वास्थ्य सेवा एवं ‘102’ नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस के माध्यम से स्वास्थ्य सेवाओं को गरीब जनता तक पहुंचाने की कोशिश की गई तो दूसरी ओर सरकारी अस्पतालों में मरीजों को इलाज, दवाइयां, पैथॉलाजी जांचें, एक्स-रे तथा अल्ट्रासाउण्ड की निःशुल्क सुविधा मुहैया कराने की पहल की गई।

मेडिकल की फीस

चिकित्सकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए प्रदेश के राजकीय मेडिकल कॉलेजों में एम.बी.बी.एस. की 500 सीटों का इजाफा किया गया। इसके साथ ही विभिन्न जनपदों में नये मेडिकल कॉलेजों का शुभारम्भ कराया गया तो कुछ जनपदों में मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य प्रगति में है।

किसानों की मदद

सरकार ने वित्तीय वर्ष 2015-16 के बजट में मुफ्त सिंचाई के लिए 200 करोड़ रूपए की धनराशि का बन्दोबस्त किया। किसानों को निःशुल्क सिंचाई सुविधा प्रदान करने की अभी तक किसी भी प्रदेश सरकार ने पहल नहीं की है। ओला वृष्टि से किसानों को हुए नुक्सान की भरपाई के लिए अखिलेश सरकार ने आर्थिक मदद की। आखिरी बजट में भी 2000 करोड़ रूपये ओला वृष्टि और बेमौसम बारिश से बर्बाद हुई फसलों भरपाई के लिए पारित किये।

समाजवादी श्रवण यात्रा

वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की गई ‘समाजवादी श्रवण यात्रा’ भी लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचने में सफल रही। ऐसे में समाजवादी श्रवण यात्रा के जरिए बुजुर्गों को एक सहायक के साथ निःशुल्क तीर्थ स्थलों का सुविधायुक्त दर्शन कराने की पहल को भी आम जनता ने खूब सराहा।

बिजली उत्पादन बढ़ाने का प्रयास

500 नए बिजली उपकेंद्र बनाने की दिशा में तेजी से काम चल रहा है, तो दूसरी ओर तहसीलों में बेहतर विद्युत् आपूर्ति के लिए विधुत सब स्टेशन स्थापित किए जा रहे हैं। इसके साथ ही करीब 1800 मेगावाट की विभिन्न यूनिट भी स्थापित की गई। इसके अलावा सोलर पावर प्लान लगा के बिजली पैदा की जा रही है।

समाजवादी पेंशन योजना

इस योजना के तहत परिवार के मुखिया को न्यूनतम 500 रुपए प्रतिमाह ई-पेमेंट के माध्यम से धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी। समाजवादी पेंशन योजना द्वारा प्रदेश स्तर पर 55 लाख परिवारों के तहत प्रत्येक परिवार के एक लाभार्थी को लाभान्वित किया जाएगा।

समाजवादी सर्वहित किसान बीमा योजना

ये योजना प्रदेश ही नहीं देश की सबसे बड़ी बीमा योजना है जिससे 13 करोड़ लोगो को सीधा लाभ मिल सकेगा। इस योजना के तहत वाराणसी में हुए हादसे में मृत लोगों के परिजनों को 5-5 लाख रूपये की आर्थिक मदद दी गयी है।

लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे

लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे अब बन कर तैयार हो चुका है ये एक्सप्रेस वे देश का सबसे बड़ा एक्सप्रेस वे है। 302 किमी लंबा ये एक्सप्रेस वे कई मायनों में खास है इसके किनारे पर अखिलेश सरकार ने किसान मंडी बनाने का फैसला किया है जो सीधे किसानों को लाभ पहुंचाएगी।

समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे

लखनऊ को पूर्वांचल से जोड़ने के लिए बनने वाला समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का डीपीआर भी तैयार हो गया है। 348 किमी का यह एक्सप्रेस-वे 408 गांवों से गुजरेगा। जो पूर्वांचल में विकास के रास्ते खोलेगा। जिसका अखिलेश को सीधा फायदा चुनावों में मिलेगा।

उत्तर हमारा

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news