Uttar Hamara logo

समाजवादी शुद्ध पेयजल योजना : चिलचिलाती गर्मी में बुझेगी प्यास

Samajwadi Shudha Payjal Yojna

Samajwadi Shudha Payjal Yojna

May 02, 2016

इस चिलचिलाती गर्मी में सबसे बड़ा पूण्य है प्यासे को पानी पिलाना। तो समाजवादी पार्टी की सरकार ने इस नेक काम की पहल शुरू कर दी हैं। उत्तर प्रदेश में अब वाटर एटीएम से मजह दो रुपये में आरओ का एक लीटर शुद्ध पानी मिलेगा। समाजवादी पेयजल योजना के तहत उत्तर प्रदेश में सार्वजनिक स्थनों पर ये पानी के एटीएम लगाए जा रहे हैं। समाजवादी पेयजल वाटर कूलर एटीएम योजना के तहत प्रदेश के 200 बसअड्डों पर आधुनिक वाटर प्यूरीफायर मशीनें लगाई जाएंगी। रोडवेज बस स्टैंडों पर यात्रियों को पेयजल की किल्लत का सामना कमोवेश हर जगह करना पड़ता है। इनके अलावा ब्लाकए तहसील एवं कलेक्ट्रेट कार्यालयों के साथ-साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आम जनता को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए एटीएम लगाने का कार्य प्राथमिकता के आधार पर पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।

पानी की बचत का भी ख्याल

Samajwadi Shudha Payjal Yojna

Samajwadi Shudha Payjal Yojna

वाटर एटीएम में इस तरह की व्यवस्था के निर्देश दिए गए हैं कि एटीएम में एक रुपये का सिक्का डालने पर 50 पैसे की क्षमता के दो टोकेन संबन्धित व्यक्ति को प्राप्त होंए ताकि एक टोकन पर उसे जरूरत के मुताबिक 250 मिलीलीटर शुद्ध पानी मिल सके। सार्वजनिक स्थानों पर स्थापित किये जाने वाले पानी के एटीएम की क्षमता 250 लीटर से कम नहीं होने के निर्देश दिए गए हैंए ताकि शुद्ध जल की आपूर्ति निरन्तर बनी रह सके।  कोई भी एटीएम खराब होने की स्थिति में अधिकतम आधे घंटे के अन्दर जरूरी मरम्मत कराकर अथवा मरम्मत न होने की स्थिति में उसे बदलकर पेयजल आपूर्ति निरंतर जारी रखे जाने की व्यवस्था की जाए।

वाटर एटीएम बुझाएगी बुंदेलखंड की प्यास

Samajwadi Shudha Payjal Yojna

Samajwadi Shudha Payjal Yojna

उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार बुंदेलखंड के अति पिछड़े जिले बांदा में वाटर एटीएम बूथ लगाने की तैयारी कर रही है। पिछले एक दशक से दैवीय आपदाओं से जूझ रहे उत्तर प्रदेश के हिस्से वाले बुंदेलखंड में पेयजल की भीषण किल्लत है। गांव.देहातों की छोड़िएए सार्वजनिक स्थानों जैसे सरकारी अस्पतालए तहसील व ब्लॉक मुख्यालयों में भी लोगों को बूंद-बूंद पानी को तरसना पड़ता है। बांदा के जिला विकास अधिकारी कृष्ण कुमार त्रिपाठी ने बताया कि समाजवादी शुद्ध पेयजल योजना के अंतर्गत वाटर एटीएम बूथ की स्थापना के लिए तहसील, ब्लॉक व सरकारी अस्पताल जैसे सार्वजनिक 15 स्थानों का प्रस्ताव भेजा गया है। वाटर एटीएम की स्थापना में पांच से दस लाख रुपये की लागत आएगी और इस कार्य की जिम्मेदारी शासन स्तर से जल निगम की विद्युत यांत्रिकी शाखा को सौंपा गया है, इस पर शीघ्र काम शुरू होने की उम्मीद है।

प्रदेश के गांवों मे भी लगेंगे शुद्ध वाटर एटीएम

ऐसे ग्रामीण इलाके जहां दूषित जलापूर्ति है वहाँ के लोगो के लिए सरकार ने वाटर ए टी एम लगाने का फैसला किया है। जिससे ग्रामीण आधार कार्ड के जरिए ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल मुहैया हो सकेगा। प्रदेश के तमाम जनपद आज भी ऐसे हैं जहां के लोग खासकर ग्रामीण इलाकों के लोग आर्सेनिक और फ्लोराइड युक्त दूषित पानी पीने को मजबूर है और घातक जानलेवा बीमारियों से आए दिन जूझते हैं। इन समस्याओं के मद्देनजर सपा सरकार ने समाजवादी शुद्ध पेयजल योजना के तहत मुख्यालयोंए जिला अस्पतालों, महिला चिकित्सालयों और तहसीलो मे वाटर ए टी एम लगाने के निर्देश दिए हैं। इस योजना से प्रदेश के हजारों ग्रामीण इलाकों को लाभ मिलेगा। दूषित पेयजल आपूर्ति से प्रभावित गांवों के लोग ग्रामीण आधार कार्ड के जरिए प्रतिदिन न्यूनतम दस लीटर तक शुद्ध पेयजल का लाभ उठा सकेंगे ।

 

उत्तर हमारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news