Uttar Hamara logo

रथयात्रा स्पेशल: सीएम अखिलेश ने रामपुर और आगरा को विकास पथ पर आगे बढ़ाया

blog-image_rampr-rath-yatra-uttar-hamara_1

28 November 2016
समाजवादी विकास रथ यात्रा का दूसरा चरण भी पहले की ही तरह भव्य और शानदार रहा। शनिवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुरादाबाद से रामपुर तक विकास रथयात्रा निकली। इस दौरान उनके काफिले के साथ चल रहे जनता के विशाल हुजूम ने यह जाता दिया कि उनका दिल और विश्वास सिर्फ विकास कार्यों से जीता जा सकता है, न कि जाति-धर्म और जुमलों या अफवाहों का बाज़ार गर्म करके।
इससे पहले शनिवार दोपहर को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मुरादाबाद के मूढ़ापाण्डेय हवाईपट्टी पर पहुंचे। यहाँ पहले से ही उनके स्वागत के लिए विशाल जन सैलाब उमड़ हुआ था। मुख्यमंत्री अखिलेश सबसे पहले रामपुर के अम्बेडकर चौराहे पहुंचे। जहाँ गार्ड सलामी द्वारा सीएम अखिलेश का स्वागत किया गया। इसके बाद अखिलेश यादव स्कूली बच्चों की ओर से आयोजित स्वागत कार्यक्रम में पहुंचे। इस दौरान समाजवादी सरकार के नगर विकास मंत्री आजम खान सीएम की अगुवाई कर रहे थे। यहाँ सभी का अभिवादन स्वीकार करने के बाद मुख्यमंत्री विकास रथ में सवार हुए। रामपुर के रास्ते में जगह जगह पर सड़क के किनारे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का स्वागत करने के लिए बच्चे, बुजुर्ग और महिलाएं तथा विभिन्न समुदयों के लोग खड़े थे। मुख्यमंत्री ने भी उन्हें नीरस नहीं क्या और उनका अभिवादन स्वीकार कर रामपुर के लिए बढ़ते गए। मुरादाबाद से रामपुर तक करीब 50 जगहों पर अखिलेश यादव का स्वागत किया गया। अखिलेश यादव के साथ रथ में प्रदेश सरकार में मंत्री आज़म खान भी मौजूद थे।

blog-image14-uttar-hamara

विकास रथयात्रा के साथ रामपुर में फिजिकल ग्राउंड में जनसभा स्थल पर पहुँचने पर पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अखिलेश यादव का जोरदार स्वागत किया। यहाँ उन्होंने मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय में विधि संकाय और टैगोर हाल के उद्घाटन समेत 200 करोड़ रुपयेको विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण कर रामपुर के लोगों को विकास की सौगातें दीं। रामपुर में सीएम अखिलेश यादव ने झील गेट, गांधी समाधि सहित कई बड़े विकास कार्यों का उद्घाटन किया। साथ ही जनता को समाजवादी सरकार के पिछले साढ़े चार साल की उपलब्धियों से रूबरू कराया।

नोटबंदी से ठप हैं जनता के कामकाज : अखिलेश
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस दौरान नोटबंदी पर केंद्र की बीजेपी सरकार की आलोचना की। इन्होने कहा कि केन्द्र में एक ऐसी सरकार है जिसके शासनकाल में अमीर से लेकर गरीब तक सभी परेशान हैं। नोटबंदी कर बीजेपी सरकार ने देश के लोग बैंकों की लाइन में लगा दिया है। जनता तकलीफ में है। नोटबंदी से कोई समस्या हल नहीं होगी। इस वजह से खेती से लेकर लोगों के घरों से शादी विवाह के मांगलिक कार्यों पर भी असर पड़ा है। अपने ही पैसे के लिए लोग परेशान हो रहे हैं। दूसरी ओर समाजवादी पार्टी की सरकार रामपुर को सुन्दर और शानदार बनाने का काम कर रही है। रामपुर के लोग के आवभगत से अभिभूत मुख्यमंत्री ने कहा कि यहाँ के लोग बड़े दिल से स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार ने भी रामपुर और पूरे उत्तर प्रदेश की हर जरूरत पूरी करने का निर्णय लिया है। काफी काम किया है। उन्होंने उत्तर प्रदेश के विकास के लिए जितने भी काम किये हैं वो पूरे देश के लिए नजीर बन गए हैं। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे जैसी सड़क देश में कहीं नहीं। 18 लाख बच्चों को फ्री लैपटॉप बांटें तो समाजवादी पेंशन योजना भी चलाई जा रही है। लेकिन अभी बहुत कम करने हैं। अभी तो माताओं-बहनों, जवानों को रोजगार देना है। बिजली का इंतजाम और बेहतर करना है। विकास के सभी कामों में समाजवादी पार्टी सहयोग करेगी।

blog-image16-uttar-hamara

…आगरा पंहुचा विकास का रथ
रामपुर को विकास की तमाम सौगातें देने के बाद रविवार को उन्होंने ऐसी ही सौगातों की बारिश आगरा में की। सीएम अखिलेश यादव आगरा में पर्यटन को और बढ़ावा देने के लिए ‘द ग्रीन पथ’ साइकल रैली में हिस्सा लिया। यह रैली इटावा की लायन सफारी से शनिवार से शुरू होकर रविवार को आगरा में समाप्त हुई। यह यात्रा इसलिए भी खास है क्योंकि इस बार वे देश के सबसे लम्बे साइकिल हाई वे पर साइकिल की सवारी की। आगरा से इटावा के बीच 207लम्बा ये साइकिल ट्रैक बीहड़ की खूबसूरती वादियों के बीच से गुजरता है। इटावा की लायन सफारी में शनिवार को इस साइकिल ट्रैक का उद्घाटन किया गया।

blog-image12-uttar-hamara

इसके साथ ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आगरा इनर रिंग रोड का लोकार्पण किया। इस रिंग रोड से ताजमहल जाने वाले पर्यटकों को सीधे पहुंचने का सुगम मार्ग उपलब्ध होगा और यूपी के पर्यटन को नया आयाम मिलेगा। साथ ही, औद्योगिक विकास को गति मिलेगी। यह मार्ग यमुना एक्सप्रेस-वे को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से जोड़ता है। इसके निर्माण से आगरा शहर में बढ़ रहे प्रदूषण में कमी आएगी और यातायात की समस्या से काफी हद तक राहत मिलेगी। इस मार्ग के साथ लगी 1000 एकड़ भूमि में थीम पार्क परियोजना का निर्माण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री यहाँ ताजगंज परियोजना का भी उद्घाटन सीएम अखिलेश ने किया। 197.27 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित इस परियोजना के तहत ताजमहल के तीनों प्रवेश मार्गों एवं उसके आस-पास के क्षेत्र में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की अवस्थापना सुविधाएं और उनका सौन्दर्यीकरण पर्यटकों को उपलब्ध होगा। परियोजना के अन्तर्गत समस्त विद्युत लाइनों को अण्डरग्राउण्ड किए जाने के साथ-साथ आधुनिक कैनोपी एवं ट्रांसफार्मर्स की व्यवस्था की गई है। क्षेत्र की मलिन बस्तियों का सुधार एवं सौन्दर्यीकरण भी किया गया है। ग्रीन एरिया विकसित किया गया है। स्ट्रीट लाइट और लैम्प पोस्ट लगाए गए हैं। जन-सुविधाओं का निर्माण किया गया है। इससे भारतीय एवं विदेशी पर्यटक आकर्षित होंगे।

blog-image17-uttar-hamara
इसके अलावा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ललितपुर पारेषण परियोजना के प्रथम चरण का भी लोकार्पण किया। यह परियोजना सम्पूर्ण ताज ट्रेपीजियम जोन (टीटीजेड) तथा बृज क्षेत्र जैसे-आगरा, मथुरा, फिरोजाबाद, हाथरस एवं निकटवर्ती जनपदों के समग्र विकास में सहायक होगी। इससे क्षेत्र में पर्याप्त मात्रा में बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित हो सकेगी। साथ ही, आगरा-मथुरा क्षेत्र में पर्यटन एवं सम्बद्ध गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा।

उत्तर हमारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news