Uttar Hamara logo

जनता का जबरदस्त उत्साह बखान कर रहा सीएम अखिलेश यादव की कामयाबी

40

अखिलेश यादव के पक्ष में जब चुनाव आयोग का फैसला आया तो प्रदेश के कोने-कोने ने जैसी ख़ुशी का माहौल था वह सूबे के युवा मुख्यमंत्री को लेकर जनता के उत्साह को बताने के लिए काफी है। इससे पहले लखनऊ में विकास से विजय की ओर रथयात्रा के आगाज पर भी युवाओं का ऐसा ही उत्साह देखने को मिला था। हाल के घटनाक्रमों से भी युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की दीवानगी में जबरदस्त इजाफा हुआ है। इतिहास के नजरिये से प्रदेश में अब तक के सबसे सफल मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का प्रदेश के युवाओं ओर छात्रों में क्रेज बढ़ता ही जा रहा है ।

जिस तरह से अखिलेश के समर्थन में लखनऊ की सड़कों पर जनसैलाब उमड़ा उसने 2017 की ईमारत की कहानी भी स्पष्ट कर दी है । पारिवारिक कलह से नुकसान आंक रहे विश्लेषकों को भी सोचने पर मजबूर कर दिया है। कई संस्थाओं के सर्वे ने अखिलेश को सूबे में मुख्यमंत्री पद के लिए पहली पसंद माना है ।

बुलंदशहर समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष दिनेश गुर्जर कहते हैं कि रथयात्रा में उमड़ा जनसैलाब इस बात का प्रमाण है कि प्रदेश में अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी पुनः सरकार बनाने जा रही है । वह कहते हैं कि जाति, वर्ग और धर्म से हटकर प्रदेश में अखिलेश यादव जी ने विकास की नई परिभाषा लिखी है। काशी की छात्र राजनीति में सक्रिय छात्र नेता संदीप सिंह स्वर्णकार कहते हैं कि हिंदुस्तान के इतिहास में युवाओं के अब तक के सबसे बड़े नेता अखिलेश यादव हैं, प्रदेश को उन्होंने नई ऊंचाइयों पर पहुँचाया है । 2017 में एक बार फिर सूबे का नेतृत्व युवा अखिलेश जी को सौंपेगा ।
मुज़फ्फर नगर के सयुस के जिलाध्यक्ष शमशेर मलिक कहते हैं कि पूरे प्रदेश में अखिलेश जी की लहार है, अखिलेश जी की आंधी में भाजपा और बसपा प्रदेश की राजनीति से उड़ जायेंगे । समाजवादी पार्टी की विकासात्मक छवि ने बसपा और भाजपा की पेशानी पर बल डाल दिए हैं ।

40b

अपनी सरकार में अखिलेश यादव ने इतने विकास कार्य कर चुके हैं कि वह युवाओं के दिलों में बस गए हैं। आज की तारीख में सीएम अखिलेश यादव ऐसे नेता बन चुके हैं जो युवाओं में अपनी पकड़ रखते हैं। अखिलेश यादव को उत्तर प्रदेश के हर वर्ग का समर्थन हासिल है। सोशल मीडिया पर भी अखिलेश के पक्ष में समर्थन शुरू हो गया है।

बात काम की करें तो अखिलेश सरकार की लैपटॉप योजना ने अखिलेश को युवाओं में खासा लोकप्रिय बना दिया है। अब अखिलेश ने समाजवादी स्मार्टफोन की घोषणा की है। इसके अलावा स्टॉर्टअप पॉलिसी से वह युवाओं को लुभा रहे हैं। लखनऊ का तो उन्होंने वर्ल्ड क्लास डेवलपमेंट कराया है। विकास परियोजनाओं से लेकर मनोरंजन पार्कों तक का तोहफा दिया है। गोमीत नदी को रिवर फ्रंट योजना के तहत विकसित किया गया। एशिया के सबसे बड़े पार्क जनेश्वर मिश्र पार्क की भी सौगात मिली। शहर में 50 हजार दर्शकों की क्षमता वाले अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है।

40a

लखनऊ मेट्रो रेल भी आने वाले दिनों में लखनऊ की शान होगी। खासतौर से जिस तरह से राजधानी की सड़कों पर यातायात का दबाव बेहद बढ़ रहा है, उसको देखते हुए आने वाले दिनों में ये लोगों के लिए वारदान साबित होगी। लखनऊ के अलावा कानपुर, वाराणसी, इलाहाबाद, मेरठ में मेट्रो का कार्य प्रस्तावित है। साथ ही ग्रेटर नोयडा मेट्रो और नॉएडा मेट्रो का विस्तार भी अखिलेश सरकार ने कराया है जिसका लाभ उन्हें चुनाव में मिलना तय है।

एसोचैम की ‘उत्तर प्रदेश इंचिंग टूवर्ड्स डबल डिजिट ग्रोथ’ रिपोर्ट ने यूपी में उधोगों के अनुकूल माहौल को साफ तौर से बयान किया। रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश की अर्थव्यवस्था में काफी सुधार आया, जिसके परिणामस्वरूप तीन वर्षों में प्रदेश की आर्थिक विकास दर देश की तुलना में बेहतर रही। महिलाओं के विरुद्ध होने वाली विभिन्न प्रकार के उत्पीड़न सम्बन्धी घटनाओं पर लगाम कसने की बात करें तो वूमेन पावर लाइन ‘1090’  की सफलता इसका खुद ब खुद बयान करती है।

उत्तर हमारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news