Uttar Hamara logo

‘समाजवादी पेंशन’ की तरह महिलाओं की जिन्दगी में सुखद बदलाव लाएगी फ्री प्रेशर कुकर योजना

coocker

02 February 2017

सीएम अखिलेश यादव में जब समाजवादी पेंशन योजन की शुरुआत की थी तो सवाल उठे थे कि भला सिर्फ 500 रुपये हर महीने देने से महिलाओं की जिन्दगी में कैसे बदलाव लाया जा सकता है। लेकिन इस योजना की सफलता ने यह साबित कर दिया कि जरूरतमंद परिवारों के लिए ये छोटी सी रकम भी बेहद ख़ास है। दरअसल सीएम अखिलेश यादव की योजनाओं की खासियत रही है कि उसमें बेहद मामूली सी देखने वाली फिर भी बेहद महत्वपूर्ण होने वाली बातों पर ध्यान दिया जाता है। ये बातें ही अखिलेश यादव की विशेष बना देती है। अपनी इसी विशेषता के चलते सीएम अखिलेश यादव ने इस बार समाजवादी पार्टी के घोषणा पत्र में गरीब महिलाओं को प्रेशर कूकर देने की घोषणा की है। माना जा रहा है कि समाजवादी पेंशन योजन की तरह ही प्रेशर कूकर देने की योजना भी महिलाओं के जीवन में बड़ा बदलाव लाएगी।

EM_Woman

सीएम अखिलेश यादव का माना है कि अगर गरीब जनता अपने दो जून की रोटी की चिंता से मुक़्त हो जाए तो सोशल इंडेक्स पर राज्य ऊंची छलांग लगा सकता है। इसके उस परिवार का तो भला होगा ही प्रदेश की विकास में भी मदद मिलेगी। इसी क्रम में सीएम अखिलेश यादव ने ग़रीब महिलाओं के लिए जल्द खाना बनाने के लिए प्रेशर कूकर देने की योजना लाने का वादा किया है। उन्होंने हर गरीब महिला को मुफ़्त में प्रेशर कुकर देने का वादा दिया है।

EM_Woman2

यहाँ गौर करने वाली बात ये है कि सीएम अखिलेश यादव का मकसद महिलाओं को सिर्फ प्रेशर कूकर देने का नहीं है, बल्कि इसके माध्यम से उनका और उनके पूरे  परिवार का जीवनस्तर ऊँचा करना है। प्रेशर कूकर की वजह से महिलाओं को भोजन बनाने से सहूलियत तो मिलेगी ही, समय और ईंधन की भी बचत होगी। सुविधा, समय और ईंधन की बचत से सीधे तौर पर उनके धन की बचत होगी। प्रेशर कूकर देने कर सीएम अखिलेश यादव गरीब महिलाओं के जीवन में चौतरफा विकास का प्रयास कर रहे हैं।

spem

यह स्थापित बात है कि महिलाएं परिवार और समाज की महत्वपूर्ण कड़ी होती हैं। ऐसे में महिलाएं अगर सशक्त होंगी तो उनका परिवार, समाज और इस तरह पूरा प्रदेश और देश सशक्त होगा। महिलाओं की बेहतरी के लिए विभिन्न योजनायें लाने के पीछे सीएम अखिलेश यादव का यही मकसद है। जो सिर्फ प्रेशर कूकर देने तक सीमित नहीं है। उन्होंने राज्य की महिलाओं को सरकारी रोडवेज बसों के किराये में भी 50 फीसदी की छूट देने का वादा किया। तो अगली बार समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर गरीबों के लिए मुफ़्त चावल और गेहूं भी मिलेगा। तो बच्चियों के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने का भी वादा किया है। सीएम अखिलेश यादव ने एलान किया कि प्राथमिक स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को एक किलो घी और एक डब्बा दूध पावडर हर महीने दिया जाएगा।

 

इसके साथ ही सभी स्कूलों में छात्राओं के लिए अलग शौचालय बनाने की योजना भी बड़ी अहम् है। कई बार स्कूलों में अलग शौचालय नहीं होना छात्राओं की कम उपस्थिति और कभी कभी तो उनके पढ़ाई छोड़ देने का कारण बन जाते हैं। सीएम अखिलेश यादव ने इस घोषणा से बेटियों के लिए शिक्षा की हर छोटी-बड़ी मुश्किलों का समाधान करने का प्रयास करने की अपनी मंशा साफ़ की है। इसमें कोई संदेह नहीं कि आधी आबादी के उत्थान के बिना प्रदेश की पूरी आबादी विकास नहीं कर सकती। सीएम अखिलेश यादव का प्रयास महिलाओं को प्रगति की मुख्यधारा से जोड़ कर पूरे प्रदेश को सतत उन्नति के रास्ते पर ले जाना है।

उत्तर हमारा

11 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news