Uttar Hamara logo

सीएम अखिलेश ने गांव-गांव तक बस संग पहुंचाया विकास का रथ

upnews360

Photo_upnews360.com

 

July 18, 2016

सड़कें विकास का पैमाना हैं तो परिवहन सेवाएं उस विकास को रफ्तार देती हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के शब्दों में कहें तो उन्होंने अब तक के अपने कार्यकाल में दो गुना सड़कें बनाई हैं और यूपी का तीन गुना विकास किया है। निःसंदेह ये उनके आत्मविश्वास भरे शब्द हैं जो उत्तर प्रदेश को उत्तरोत्तर प्रगति के रास्ते पर ले जा रहे हैं। लेकिन यहां एक और बात गौर करने वाली है कि अखिलेश सरकार में अन्य क्षेत्रों की तरह परिवहन के क्षेत्र में विकास सिर्फ सुविधाएं और सेवाएं बढ़ाने तक सीमित नहीं हैं, बल्कि इनके केंद्र में गरीबों और कमजोर वर्ग को सहूलियत देने की भी चिंता शामिल रही है।

lohiya bus

Photo_ www.dnaindia.com

लोहिया ग्रामीण बस सेवा ग्रामीणों की सस्ती परिवहन देने की अखिलेश सरकार की अहम योजना है। इसके तहत जहां प्रदेश में ग्रामीण इलाकों तक परिवहन या रोडवेज बसों की सेवाएं मुहैया कराई गई हैं, वहीं यात्रियों को बेहद सस्ते किराए में यातायात की सुविधा दी जा रही है। अखिलेश सरकार ने ऐसे ग्रामीण क्षेत्रों में 25 प्रतिशत छूट के साथ लोहिया ग्रामीण बस शुरू की हैं, जहां चार साल पहले तक आवागमन का कोई साधन ही उपलब्ध नहीं था। साफ है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस योजना से उन इलाकों को भी विकास की रफ्तार से जोड़ा जो अब तक अछूते थे, साथ ही किराए में छूट देकर वहां के ग्रामीणों को सीधे तौर पर लाभ पहुंचाया है। ग्रामीण अंचलों की जनता को अच्छी व सस्ती सार्वजनिक परिवहन सेवा उपलब्ध कराने के लिए परिवहन निगम लोहिया ग्रामीण परिवहन सेवा के तहत 1500 बसें संचालित कर रहा है।

वहीं बस सेवाओं को अत्याधुनिक बनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी गई है। उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है जहां रोडवेज की स्वचालित पूछताछ सेवा (आईवीआरएस) डाॅयल ‘149’ का शुभारंभ किया गया है। वैसे परिवहन सेवाओं को बेहतर बनाने की मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की कोशिशें यहीं तक सीमित नहीं हैं, बल्कि तमाम दूसरी सुविधाएं जोड़कर इसे आरामदायक और हाईटेक बनाया गया है। आइए एक नजर डालने कुछ ऐसी ही सुविधाओं पर….

parivahan neer

Photo_newscircle.in

समाजवादी शीतल पेयजल योजना व परिवहन नीर

यात्रियों को बस स्टेशनों पर ठंडा पानी उपलब्ध कराने के लिए अखिलेश सरकार ने एक ओर यहां समाजवादी शीतल पेयजल (वाटर एटीएम) योजना शुरू की है, वहीं यात्रा के दौरान सवारियों की सुविधाएं के लिए परिवहन नीर उपलब्ध कराए हैं। वाटर एटीएम से शुद्ध पेयजल एक रुपये प्रति लीटर तथा शुद्ध शीतल पेयजल दो रुपये प्रति लीटर की दर से उपलब्ध है। इसके अलावा यात्रा के दौरान शुद्ध, स्वच्छ एवं ठंडा पानी उपलब्ध कराने के लिए परिवहन निगम की 3000 बसों में आईस-बाॅक्स की व्यवस्था की गई है। यह व्यवस्था 200 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करने वाली बसों में दी जा रही है। यात्रियों की सुविधा के लिए आईस-बाॅक्स में ‘परिवहन नीर’ की बोतलें रखी जायेंगी, इस एक लीटर की बोतल की कीमत 14 रुपये, आधा लीटर की 09 रुपये तथा दो लीटर की 22 रुपये है।

pink-express

Photo_ www.bhaskar.com

पिंक एक्सप्रेस महिला बस सेवा

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का मानना है कि सम्मान किसी भी विकास में योजना में महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान सुनिश्चित होना चाहिए। इसी क्रम में परिवहन निगम ने खासकर महिलाओं  सुरक्षित सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए पिंक एक्सप्रेस महिला स्पेशल बस सेवा शुरू की है। इस बस सेवा से महिलाओं में आत्म विश्वास जगा है।

kaisarbag

Photo_youtube.com

आधुनिक बस स्टेशनों का निर्माण

प्रदेश 25 आधुनिक बस स्टेशनों का निर्माण किया जा रहा है। इन बस स्टेशनों पर वातानुकूलित यात्री प्रतीक्षालय, फूड प्लाजा, शाॅपिंग आर्केड एवं डिपार्टमेन्टल स्टोर, सामान्य क्लोक रूम आदि आधुनिक सुविधाओं की पूरी व्यवस्था होगी। आने वाले समय में इसी तरह से प्रदेश के अन्य बस स्टेशनों के निर्माण कराने की तैयारी है। इसके अलावा 44 बस स्टेशनों का उच्चीकरण किया जा रहा है। कैसरबाग बस स्टेशन को अन्तरराष्ट्रीय बस अड्डे के माॅडल के रूप में विकसित किया जा रहा है। यहां अन्तराष्ट्रीय एयरपोर्ट की तरह की सुविधाएं होंगी, जो प्रदेश के अन्य बस स्टेशनों के लिए अनुकरणीय होगा।

पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को फ्री यात्रा का लाभ

उत्तर प्रदेश सरकार ने राष्ट्रीय व राज्य स्तरीय अध्यापक पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को परिवहन निगम की बसों में स्मार्ट कार्ड आधारित निःशुल्क बस यात्रा सुविधा देने की योजना बनाई है। इन शिक्षकों को निःशुल्क बस यात्रा सुविधा देते हुए उनकी यात्रा को और सुगम व सरल बनाने के लिए उन्हें स्मार्ट कार्ड मुहैया कराए गए हैं।

samajwadi srawan yatra

photo_upnews360.com

तीर्थ यात्रियों को निःशुल्क बस यात्रा

अखिलेश सरकार समाजवादी श्रवण यात्रा के तहत वृद्ध जनों को निशुल्क तीर्थयात्रा का लाभ दे रही है। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ एवं मूल निवासियों को शिरडी, त्रयम्बकेश्वर एवं शनि सिंगनापुर (महाराष्ट्र) की तीर्थयात्रा सहित अन्य धार्मिक स्थलों की सरकार की ओर से यात्रा की व्यवस्था की गई। इस तीर्थयात्रा के लिए परिवहन निगम की बसें चयनित तीर्थयात्रियों को उनके गृह जनपद से लखनऊ तक मुफ्त लाती और ले जाती हैं।

24 घंटे हेल्पलाइन सेवा

जनसामान्य को और अधिक तथा प्रभावी सेवा प्रदान करने के लिए परिवहन विभाग की टोल फ्री हेल्पलाइन सेवा 18001800151 को  उत्तर प्रदेश सरकार 24 घंटे और सातों दिन संचालित कर रही है। पहले यह सेवा परिवहन आयुक्त कार्यालय (मुख्यालय) में बीएसएनएल के माध्यम से सुबह  9:00 बजे से रात 8:00 बजे तक संचालित थी, जिसे 24 अनवरत चालू कर दिया गया है। 24 घन्टे हेल्पलाइन के संचालन से जनसामान्य को जहां विभाग की सेवाओं के बारें में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त होगी। वहीं अपनी शिकायतें और सुझाओं को दर्ज कराने में सुविधा होगी।

acbus-t

Photo_ online.up-tourism.com

पर्यटकों को भ्रमण कराने वाले वाहन टैक्स फ्री

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाओं को देखते हुए देशी-विदेशी पर्यटकों को पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराने के लिए प्रयोग में आने वाले वाहनों को पांच वर्ष के लिए कर के भुगतान से पूर्ण रूप से छूट प्रदान की है।

cycle

Photo_ newsroom.unfccc.int

बस यात्रियों को दिन भर के लिए मुफ्त साइकिल

मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बस में यात्रा करने वाले यात्रियों बस अड्डे से अपने गन्तव्य स्थान पर जाने के लिए मुफ्त में साइकिल देने की योजना शुरू की है। इस योजना का फायदा खासकर घरेलू यात्री और दैनिक बस से यात्रा करने वाले लोगों के लिए ये सुविधाजनक साबित होगी।इस योजना का लाभ लेने के लिये बस यात्रियों को अपनी बस टिकट और पहचान पत्र बस के डिपो अधिकारी को दिखाना होगा और उन्हें मुफ्त में साइकिल मिल जाया करेगी। इस सेवा से न सिर्फ लोगों को अतिरिक्त खर्च से बचने में फायदा होगा, बल्कि शहरों में प्रदूषण में भी कमी आएगी।

 

उत्तर हमारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news