Uttar Hamara logo

6 घंटे में 900 योजनाओं के लोकार्पण से यूपी को मिला नए साल का तोहफा 

सीएम अखिलेश ने 60 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास किया

1

20 December 2016

नए साल का भला इससे बड़ा उपहार क्या हो सकता है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को नौजवानों-किसानों के साथ-साथ यूपी की जनता को खुशियों की तमाम सौगातें दीं। उत्तर प्रदेश में किसी सरकार के कार्यकाल में यह पहला मौका है जब योजनाओं का शिलान्यास कर उनका लोकार्पण भी एक ही कार्यकाल में हो रहा है। रोचक बात यह भी है कि सीएम अखिलेश ने आज 6 घंटे में 60 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास किया। इस कुछ घंटों के अंदर उन्होंने 910 परियोजनाओं का लोकार्पण, 13 का शिलान्यास, 26 हजार छात्र-छात्राओं को फ्री लैपटाप और 911125 लाभार्थियों को समाजवादी पेंशन वितरित करने का रिकार्ड बनाया। 59 जिलों से शुरू की गई इन परियोजनाओं की लागत करीब 60 हजार करोड़ रुपये है। सबसे अधिक परियोजना लखनऊ की है।

2

मुख्यमंत्री ने इसकी शुरुआत सुबह 11 बजे डॉ. राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल में 203 करोड़ की लागत से किये गए विकास कार्यों के लोकार्पण से की। शाम 4 बजे उन्होंने कैसरबाग बस अड्डे के लोकार्पण से कार्यक्रम का समापन किया। सीएम ने लखनऊ को 200 बेड वाले बच्चों के अस्पताल, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, मो. शाहीद हॉकी स्टेडियम, कैंसर इंस्टीट्यूट, आईटी सिटी, सीजी सिटी समेत 3500 करोड़ रुपये की सौगात दी है।  कैंसर हॉस्पिटल में एक दिसंबर से ही ओपीडी सेवा शुरू हो चुकी है, जबकि क्रिकेट स्टेडियम में एक रणजी मैच खेला जा चुका है। करीब आधा दर्जन स्थानों पर होने रहे कार्यक्रम में चंदौली और बिजनौर में प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज और इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय भवन का शिलान्यास भी शामिल है। इसके अलावा डॉ. राम मनोहर लोहिया संस्थान में स्वास्थ्य की योजनाओं, किसान बाजार मंडी में 3176 परियोजनाओं, किसान बाजार मंडी में ही 2021 योजनाओं, एसजीपीजीआई में भी 4 बड़ी योजनाओं और जेपी अंतरराष्ट्रीय सेंटर में स्वीमिंग पूल का लोकार्पण भी सीएम ने किया।

8

लोहिया चिकित्सालय में चिकित्सा सुविधाओं व निर्माण कार्यों के लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान ही उन्होंने यहाँ पर फैजाबाद के सराय घनेठी, अंजरौली के स्वास्थ्य केन्द्रों का भी उदघाटन किया। इसके बाद वे मंडी परिषद की परियोजनाओं का लोकार्पण, शिलान्यास के लिए रवाना हो गये।

7

सीएम अखिलेश ने मंडी परिषद 1932.36 करोड़ रुपये की 3,180 परियोजनाओं का लोकार्पण और 1103.10 करोड़ की 2,022 परियोजना का शिलान्यास किया। सीएम मने उम्मीद जताई कि इनसे ग्रामीण क्षेत्रों एवं किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। मुख्यमंत्री ने किसान बाजार, लखनऊ, सैफई, झांसी, कन्नौज के अलावा विशिष्ट मण्डी स्थल, ललितपुर, जालौन, हमीरपुर, बांदा तथा महोबा को जनता को समर्पित किए। इनके साथ ही 2311 गांवों में जनेश्वर मिश्र ग्राम योजना के तहत कराए गए कार्यों तथा 587 एग्रीकल्चर मार्केटिंग हब सहित बुन्देलखण्ड क्षेत्र में बनाए गए 79 ग्रामीण अवस्थापना केन्द्रों का भी लोकार्पण किया। लखनऊ में एपी सेन रोड पर नवनिर्मित बहुउद्देशीय भवन, नवीन मण्डी स्थल पयागपुर-बहराइच, उप मण्डी स्थल नवाबगंज-बरेली एवं वृन्दावन-मथुरा तथा जैथरा-एटा, मण्डी स्थल मोहनलालगंज-लखनऊ के साथ ही 183 बसावट के नवनिर्मित सम्पर्क मार्गों एव अतिथि गृह विल्सी-बदायूं का भी लोकार्पण किया। जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया, उनमें जनेश्वर मिश्र ग्राम योजना के तहत चयनित 2000 गांवों का विकास कार्य, विशिष्ट आम मण्डी मलिहाबाद-लखनऊ, किसान बाजार-हरदोई, बहराइच, हापुड़, विशिष्ट आलू मण्डी कन्नौज, विशिष्ट लहसुन एवं सब्जी मण्डी, मैनपुरी, अतिथि गृह टूण्डला-फिरोजाबाद, अतिरिक्त मण्डी स्थल, आगरा, नवीन मण्डी स्थल बिसवां-सीतापुर तथा 12 मण्डी स्थलों पर सोलर पावर प्लाण्ट की स्थापना शामिल है।

6

मुख्यमंत्री ने शहीद पथ के करीब 200 बिस्तरों के मातृ-शिशु चिकित्सालय का शुभारम्भ किया। यहाँ उन्होंने 80 अन्य चिकित्सालयों का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया। मुख्यमंत्री यहां से शहीद पथ होते हुए अन्तरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम फिर सीजी सिटी परियोजना का लोकार्पण करने पहुंचे। लखनऊ के चक गंजरिया फार्म की 846.49 एकड़ भूमि पर सीजी सिटी परियोजना शुरू की गई है। इसके तहत यहां आईटी सिटी, आईआईआईटी , आधुनिक दुग्ध प्रसंस्करण प्लाण्ट, मेडीसिटी एवं कैंसर इंस्टीट्यूट, पीपीपी मोड पर सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल आदि का निर्माण कराया जा रहा है। इसके अलावा यहां संस्कृति स्कूल, सीएसआई टावर तथा ईडब्ल्यूएस/ एलआईवी भवनों का निर्माण भी कराया जा रहा है। परियोजना के तहत जोनल सड़क, सीवरेज, केबल डक्ट, फुटपाथ तथा साइकिल ट्रैक का कार्य पूरा हो चुका है। एसटीपी, ओवर हैड टैंक, सीएसआई टावर, संस्कृति स्कूल का कार्य तेजी से चल रहा है।

5

अखिलेश यादव ने 15 अक्टूबर, 2014 को आइटी सिटी का शिलान्यास किया था। यहां एचसीएल ने अपना प्रोजेक्ट लगाया है, जिसके कौशल विकास केन्द्र में प्रशिक्षित 190 छात्र-छात्राओं को एचसीएल में ही जॉब मिल चुकी है। 180 छात्र ऑन-जॉब प्रशिक्षण ले रहे हैं। तीसरे समूह के लिये 100 छात्रों का चयन किया गया है। आइटी सिटी को केन्द्र सरकार ने विशेष आर्थिक क्षेत्र (एसइजेड) का दर्जा दिया है। इस परियोजना में 75 हजार व्यक्तियों को रोजगार मिलेगा।

4

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय, इलाहाबाद के भवन का शिलान्यास करके युवा वर्ष में प्रदेश के नौजवानों को तोहफा दिया। इसी वर्ष जून में एक अधिसूचना के माध्यम से इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय की स्थापना की गई थी। यह विश्वविद्यालय आधुनिक शिक्षा का महत्वपूर्ण केन्द्र होगा। यहां 12 स्कूलों तथा 114 केन्द्रों/विभागों के माध्यम से शैक्षणिक गतिविधियां संचालित की जाएंगी। विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए वर्तमान वित्तीय वर्ष में करीब 294 करोड़ रुपये भूमि व्यवस्था के लिए तथा लगभग 49 करोड़ रुपए भवन निर्माण हेतु दिए गए हैं। इस विश्वविद्यालय के प्रथम चरण में ह्यूमिनिटीज़, सोशल साइंस और इण्टरनेशनल तथा कॉमर्स एण्ड मैनेजमेंट से सम्बन्धित पाठ्यक्रमों को उपलब्ध संसाधनों के आधार पर प्रारम्भ किया गया है। द्वितीय एवं तृतीय चरण में बेसिक एण्ड इम्प्लाइड साइंसेज़, इनवायरमेण्टल एण्ड अर्थ साइंसेज़, इण्डियन एण्ड फॉरेन लैंग्वेज, लीगल स्टडीज़, स्किल डेवलपमेण्ट एण्ड प्रोफेशनल स्टडीज़, इंजीनियरिंग शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा, कृषि एवं आयुर्वेद आदि से सम्बन्धित पाठ्यक्रम शुरू किए जाएंगे।

3

मुख्यमंत्री पीजीआई के नये ओपीडी भवन का तोहफा भी दिया। उन्होंने बहुमंजिला केंद्रीय पुस्तकालय एवं सभागार कॉम्प्लेक्स को भी लोकार्पित किया। इस पांच मंजिली इमारत में प्रथम चार तलों पर 15 विभागों की ओपीडी है। इसके लिए 144 कमरों का निर्माण किया गया है। 400 सीटों की क्षमता वाला एक और 150 सीटों वाले चार लेक्चर थियेटर हैं। शाम को मुख्यमंत्री कैसरबाग में करीब 11 करोड़ रुपये लागत से तैयार मॉडल बस स्टेशन का लोकार्पण किया करेंगे, जबकि मथुरा व नैमिषारण्य में नए बस स्टेशनों की शुरुआत करने के साथ लोहिया ग्रामीण बसों व साधारण किराए की बसों को फ्लैग ऑफ करेंगे। प्रदेश में डेढ़ हजार लोहिया बसें चलाई जानी हैं।

उत्तर हमारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news