Uttar Hamara logo

अखिलेश यादव ने शहरों के हाईवे से गांव की पगडण्डी तक जोड़े विकास के तार

15

01 February 2017

उत्तर प्रदेश के सियासी फलक पर एक नया पता लिखा जा रहा है। यह पता है, लोहिया के समाजवाद को गांव के खेत खलिहानों से लेकर के शहर के गली मोहल्लों तक पहुंचाने वाले विकास पुरुष मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का। पांच साल पहले जब अखिलेश यादव की ताजपोशी हुई थी तो इसी उत्तर प्रदेश में विपक्ष की पार्टियों ने तमाम ऐसे आरोप लगाए, तमाम ऐसे तंज कसे, ऐसे ताने मारे जिससे किसी का भी आत्मविश्वास डगमगा सकता था। लेकिन यह अखिलेश यादव थे जो इन सबसे बेफिक्र अपने काम में आगे बढ़ते रहे।

उनको नहीं परवाह थी कि बीजेपी क्या कहती है, बसपा क्या कहती है और कांग्रेस क्या कहती है? उनको परवाह थी तो इस बात की कि गांव के गरीब का चूल्हा जला है कि नहीं, किसान के खेतों में पानी पहुंचा है कि नहीं, पढ़ने वाले छात्रों के पास किताबें हैं कि नहीं, स्कूल जाने वाले छोटे छोटे बच्चों के पेट भरे हैं कि खाली हैं? उन्हें चिंता थी बुजुर्गों की। उन्हें चिंता थी तो देश के नौजवानों की। उन्हें चिंता थी तो बेरोजगारी की, उन्हें चिंता थी कानून व्यवस्था की। और, अखिलेश यादव ने अपनी इन जिम्मेदारियों को ठीक वैसे ही निभाया जैसा उनसे इस प्रदेश की जनता ने उम्मीद किया था।

आज अगर आप उत्तर प्रदेश का नक्शा उठा कर के देखें तो आपको बहुत सारी चीजें इन पिछले सालों में बदली हुई नजर आएंगी। आपको लखनऊ बदला नजर आएगा, आपको उत्तर प्रदेश की सड़कें बदली नजर आएंगी, आपको हाइवे बदले नजर आएंगे, आपको खेत-खलिहानों के चौपाल बदले नजर आएंगे, आपको छात्रों के बदले हुए चेहरे नजर आएंगे, आपको गरीबी से ऊपर अच्छी जिंदगी जीते लोग नजर आएंगे और यकीनन आपको नजर आएंगे वह लोग जो इसके पहले भले समाजवादी पार्टी के साथ नहीं थे लेकिन अब हकीकत जानकर वह तन मन के साथ अखिलेश यादव के साथ खड़े हो गए हैं।

गांव में किसानों के खेत लहलहाने से लेकर छात्रों के हाथों में उज्जवल भविष्य का लैपटॉप थमा करके उसको नई दुनिया से जोड़ाने का काम हो, या फिर गरीब परिवारों की बेटियों की शिक्षा और शादी का इंतजाम, नौजवानों के हाथों को काम या बड़े-बुजुर्गों से तीर्थ यात्रा पूरे करने के अरमान, अखिलेश यादव ने सबके हित पूरे करने के प्रयास किये हैं।

उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश की जनता को यह सब देने के लिए अपना दिन रात एक कर दिया और आज अपने किए गए कामों की बदौलत जनता जनार्दन के बीच में जा रहे हैं एक बार फिर से आशीर्वाद लेने और यह कहने कि ‘अगर प्रदेश की जनता को यह लगता है कि इस नौजवान ने इस प्रदेश के लिए कुछ भी किया है तो उनको एक मौका और मिलना चाहिए। तमाम राजनीतिक घटनाक्रम पर यदि या प्रकाश डालें तो आपको समझ में आएगा कि इस समय उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की लहर चल रही है। और, इस लहर की वजह है अखिलेश सरकार में किये गए विकास कार्यों की लम्बी फेहरिस्त।

उत्तर हमारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Hamara

Uttar Hamara

Uttar Hamara, a place where we share latest news, engaging stories, and everything that creates ‘views’. Read along with us as we discover ‘Uttar Hamara’

Related news